कैसे psoriasis को पहचाने और उसका इलाज करें

ByMamta Choudhary

Dec 6, 2022 , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,
कैसे psoriasis को पहचाने और उसका इलाज करें

Table of Contents

Psoriasis क्या है

Psoriasis skin का गंभीर रोग है जिसमें रोगी अपने आप को उपेक्षित सा महसूस करता है यह skin disease 35 से कम उम्र में विकसित होती है इस disease में skin पर लाल चकते पडते हैं जिस पर सफेद मोटी परत होती है यह धब्बे अक्सर joint पर नजर आते हैं यह धब्बे सिर व पीठ पर भी होते हैं कई बार यह धब्बे गंभीर रुप धारण कर लेते हैं इन पर कभी कभार खुजली भी चलने लगती है जिससे उन पर सूजन आ जाती है

आखिर psoriasis क्यों होता है

इस skin disease ने cells तेज गति से बनने लगती हैं जिससे यह cells skin पर इकट्ठा होने लगती हैं और धब्बे व चकत्ते का रूप ले लेती हैं अब तक जितना psoriasis पर शोध किया है उससे बस यही पता चला है कि यह प्रतिरोधी तंत्र में गड़बड़ी का परिणाम है जब इस प्रतिरोधी तंत्र में समस्या आती है तो वह गलती से healthy skin cells पर हमला करता है जिससे skin disease की समस्या पैदा हो जाती है

सोरायसिस कभी-कभी psoriatic arthritis से जुड़ा होता है जिसमें सर्वे से पता चला है कि भारत में 10 से 30 पर्सेंट लोग psoriatic arthritis से पीड़ित है 

 कई व्यक्तियों में यह skin disease इतनी फैल जाती है कि वह समाज से कटकर रहने लगते हैं यह psoriasis जीवन पर बहुत ही अधिक प्रभाव डालता है यह बीमारी लंबे समय तक चलने वाली बीमारी है 

इस बीमारी की विशेषता है कि इसमें skin की cells 10 गुना तेजी से बढ़ने लगती हैं यह psoriasis आपकी skin पर चोट या कुछ दवाओं का उपयोग करने से या फिर गले में संक्रमण की वजह से भी हो सकती है यह लोग एक दूसरे से नहीं फैलता है अर्थात यह संक्रामक disease नहीं है

Psoriasis कितने प्रकार का होता है

Plaque psoriasis

Psoriasis के कुल मरीजों में से 50% मरीज psoriasis से ग्रसित होते हैं यह skin disease बहुत ज्यादा लोगों को अपना शिकार बनाती है इस disease में लाल रंग के धब्बे शरीर पर हो जाते हैं तथा इन चकतों के ऊपर सफेद पपड़ी आ जाती है यह 40 वह 65  उम्र के व्यक्तियों में पाया जाता है इस डिजीज में व्यक्ति बहुत अधिक मानसिक रुप से प्रभावित होता है

Inverse psoriasis यह आमतौर पर त्वचा की सलवटो पर होता है psoriasis के इस प्रकार में व्यक्ति के जनन अंगों ,पुट्ठे ,बाजुओं की जगह पर यह psoriasis हो जाता है skin disease में लाल चकत्ते से उभर आते हैं लेकिन इस पर सफेद पपड़ी नहीं आती है यह skin disease भी व्यक्ति को बहुत अधिक प्रभावित करती है

Guttate psoriasis

यह psoriasis बहुत ही कम उम्र में होता है यह psoriasis बच्चों में भी पाया जाता है guttate psoriasis के नाम के अनुरूप drop की तरह लाल धब्बेदार दाने होते हैं यह skin disease मुख्यतः पावो, जांघो, गुप्तांगों तथा बाजुओं को प्रभावित करती है

Pustular psoriasis 

नाम के अनुरूप इस disease में पस पड़ जाता है यथार्थ कहीं छोटे लाल धब्बे मिलकर एक बड़ा लाल धब्बा बनाते हैं जिसमें पस पड़ जाती है यह ऐसा लगता है जैसे मुंहासे हो गए हो लेकिन इससे कोई खतरा तो उत्पन्न नहीं होता लेकिन यह दर्दनाक व खुजली दार होता है भूख ना लगना चक्कर आना बुखार आना इसके लक्षण होते हैं

यह मुख्य रूप से हथेलियों, उंगलियों व नाखून को प्रभावित करती है तथा यह तलवों में भी हो जाती है

Erythrodermic psoriasis

यह psoriasis अधिकतर पीठ पर होता है वैसे तो यह और जगह भी हो सकता है लेकिन इसके case अधिकतर पीठ के आते हैं साथ ही यह पुरुषों में अधिक देखा गया है यह यदि बहुत अधिक फैल जाए तो यह जानलेवा भी साबित हो सकता है इससे hypothermia जैसी disease हो जाती है जो कि जानलेवा बीमारी होती है इसमें तेज ह्रदय गति व खुजली होती है जब भी इसके लक्षण बहुत ज्यादा नजर आए तो तुरंत डॉक्टर को दिखाना चाहिए नहीं तो यह जानलेवा बीमारी है

Psoriasis होने के कारण क्या है

  • Skin पर चोट का लगना
  • ठंडा वातावरण
  • Skin वह गले का इन्फेक्शन होना
  • अनुवांशिक इतिहास का होना
  • ब्लड प्रेशर या हृदय से संबंधित दवा का सेवन करना
  • धूम्रपान का इस्तेमाल करना
  • शराब का इस्तेमाल करना
  • तनाव का होना

Psoriasis से क्या समस्याएं हो सकती है

Psoriasis खुद तो एक skin disease है ही साथ ही इसके होने से कई अन्य बीमारियां भी शरीर को पकड़ लेती है जैसे 

  • जोड़ों में सूजन व दर्द का होना
  • त्वचा में जलन
  • Autoimmune disorder का हो जाना
  • डिप्रेशन
  • एंजायटी
  • नेत्र रोग
  • Hypothermia (यह जानलेवा बीमारी भी हो सकती है)
  • तनाव

Psoriasis होने के लक्षण क्या होते हैं

  • इस disease में लाल धब्बे बने होते हैं जिन पर सफेद परत से यह ढका होता है यह दर्दनाक व खुजली दार हो सकते हैं खुजली करने पर इनमें दरारे हो जाती हैं तथा खून भी आ जाता है
  • Psoriasis में सिर पर बड़ा लाल चकते हो जाता है जो एक मोटी सफेद परत से ढक जाता है एक पपड़ी जैसा हो जाता है
  • नाखून व पैर की उंगलियों का रंग बदल जाता है इसमें नाखून भी उखड़ सकते हैं

क्या psoriasis छुआछूत का रोग है

Psoriasis छूने से नहीं फैल सकता है लेकिन जिस व्यक्ति में यह रोग हो गया है उसके शरीर के अन्य भागों में फैल जाता है यह inflammatory reaction होता है जो एक व्यक्ति के अंदर फैलता है अन्य को कोई नुकसान नहीं पहुंचाता अतः आप इसको छुआछूत का रोग ना समझे

Psoriasis होने के सही कारण क्या है

Immune system-

 शरीर में immune system शरीर को बचाने का, शरीर में होने वाले रोगों से लड़ने का काम करता है बैक्टीरिया संक्रमण होने पर आपके शरीर को सुरक्षित रखने का काम करता है लेकिन इस बीमारी में यह उल्टा काम करने लगता है immune system के शरीर के विरोधी हो जाने की स्थिति में त्वचा 10 गुना तेजी से cells का निर्माण करने लगती है  जिससे यह cells त्वचा की सतह पर बहुत जल्दी आने लगती हैं और नई cells का ढेर लग जाता है और जो हमें धब्बों के रूप में देखने को मिलता है वह psoriasis रोग हो जाता है यह लाल रंग में उपस्थित होता है इसकी वजह से skin पर सूजन भी रहने लगती है

Hormonal changes

रजोनिवृत्ति के समय में जब hormonal changes होते हैं तब यह skin disease देखी जाती है यदि आप pregnant है तो psoriasis की संभावना और भी अधिक बढ़ जाती है

कुछ medicine भी responsible है

लिथियम मानसिक बीमारी का इलाज करती है बीपी की दवा मलेरिया रोधी दवाइयां psoriasis को बढ़ा देती हैं इन दवाइयों की वजह से भी psoriasis हो जाता है इसमें जो ग्रसित व्यक्ति होता है उसमें यह लाल धब्बे बना लेता है जो व्यक्ति के अन्य भागों में फैलने लगते हैं यह खुजलीदार दर्दनाक skin disease है इसमें लगातार सुजन आने लगती है यदि उपचार में देरी करी जाती है तो हालात बद से बदतर भी हो सकते है यह बीमारी गंभीर स्थिति ले सकती है

पर्यावरणीय कारक

पर्यावरणीय कारण भी psoriasis को पैदा होने के जिम्मेदार होते हैं अर्थात जो अनुवांशिक के दोष के साथ संयोजन में पर्यावरणीय कारक भी जिम्मेदार हो जाते हैं

आनुवंशिकी प्रवृत्ति

यह skin disease एक ही परिवार के विभिन्न व्यक्तियों को प्रभावित करती पाई गई है लेकिन यह विरासत में नहीं मिलती है अतः यह आनुवंशिकी प्रवृत्ति को दर्शाता जरूर है

(Psoriasis autoimmune बीमारी है यह skin disease कैसे होती है इसका भी कोई पता नहीं है इस disease पर अभी शोध चल रहे हैं फिर भी त्वचा विकार के कारणों में आनुवंशिक प्रवृत्ति और पर्यावरणीय कारकों को हार्मोनल परिवर्तन और immune system को जिम्मेदार माना गया है)

Psoriasis की शुरुआत कहां से होती है

यह ऐसी skin disease है जो सारे शरीर को प्रभावित करती है यह एक प्रतिरक्षा प्रणाली में समस्या होने की वजह से यह skin disease होती है यह त्वचा पर लाल सूखे मोटे धब्बों से शुरू होती है जो आमतौर पर कोहनी, घुटनों और स्कैल्प पर बनने लगते हैं और यह धीरे-धीरे चेहरे, पीठ ,हाथों ,तलवों में भी फैल जाते हैं

Psoriasis रोग के निदान की शुरुआत कैसे करें

आप अपने डॉक्टर को जांच करवाएं लेकिन यह डॉक्टर आप की बीमारी को लेकर स्पष्ट नहीं हो पाते हैं कि यह कौन सी skin disease है तो डॉक्टर आपकी त्वचा का एक छोटा सा टुकड़ा लेकर उसको biopsy के लिए भेजेंगे और फिर इस टुकड़े की लैब में जांच होगी

इस biopsy test से यह बात स्पष्ट हो जाएगी कि आपको यह किस प्रकार का psoriasis है या फिर आप किस प्रकार के संक्रमण या बीमारी से पीड़ित है

Psoriasis के लिए इलाज की आवश्यकता किसको पड़ती है

जिन लोगों की बायोप्सी हो जाती है और यह पता चल जाता है कि उनको किस type की disease है तो वे लोग उपचार के लिए योग्य हो जाते हैं सबसे पहले psoriasis का इलाज टॉपिकल क्रीम से किया जाता है तथा यूवी लाइट थेरेपी से किया जाता है फिर इसके बाद एडवांस स्टेज पर जाकर इलाज किया जाता है इलाज का उद्देश्य इम्यूनिटी प्रणाली को ठीक करना जिससे skin cells को तेजी से बढ़ने से रोका जाता है व सूजन को कम करा जाता है एक सीमा तक इस इलाज में सफलता भी प्राप्त होती है

Psoriasis के 15 परसेंट रोगियों को समय पर उचित उपचार न मिलने पर psoriatic arthritis  (जोड़ों का दर्द ) हो जाता है

Psoriasis होने पर क्या करना चाहिए

यह skin disease होने पर तुरंत आपको डॉक्टर से चेकअप करवाना चाहिए और पता लगाना चाहिए कि क्या disease है जब पता चल जाए तो इस skin disease को नियंत्रित करने के लिए कुछ कदम उठाने चाहिए

टॉपिकल चिकित्सा

  • शरीर के जिस भी हिस्से में आप इस disease से प्रभावित हैं उस क्षेत्र पर आप cartiko steroid  रेटिनोइड्स विटामिन डी सैलिसिलिक एसिड कोल टार और एंथ्रलिन का प्रयोग शामिल है इनको लगाकर इस बीमारी में रोकथाम का प्रयास किया जाता है

फोटो थेरेपी

  • इसमें थेरेपी के जरिए प्रभावित स्कीम का इलाज किया जाता है जैसे प्राकृतिक या कृत्रिम प्रकाश से जैसे सूरज की रोशनी युवी बी थेरेपी तथा एक्स सिमर लेजर आदि से इलाज किया जाता है

अन्य दवाईयां

इसमें steroids, retinoids साइक्लोसपोरिन बायोलॉजिक्स और टेब्लोइड जैसी दवाइयों से इलाज किया जाता है तथा इस disease को एक सीमा तक ठीक किया जाता है

क्या यह psoriasis ठीक हो सकता है

Psoriasis skin की प्रतिरोधक प्रणाली की समस्या की बीमारी है इसलिए इसका अभी तक कोई भी इलाज मालूम नहीं पड़ा है इस बीमारी को सिर्फ नियंत्रित किया जा सकता है अभी तक ऐसा कोई इलाज नहीं ज्ञात हुआ है जो इस disease को हमेशा के लिए खत्म कर सके यह skin disease आजीवन रह सकती है बस इसको आगे बढ़ने से रोका जा सकता है तथा कम किया जा सकता है इस बीमारी पर अभी शोध चल रहे हैं एलोपैथी में इसका परमानेंट कोई इलाज नहीं है लेकिन आयुर्वेद में कहते हैं इस को ठीक किया जा सकता है

क्या psoriasis के इलाज से side effect हो सकते हैं

Psoriasis के लिए जितने भी इलाज किए जाते हैं उन सब में कोई side effect नहीं होता है यह सुरक्षित होते हैं वर्षों के अनुसंधान से इस बात का पता लगाया जा चुका है कभी-कभी allergy की शिकायत जरूर हो सकती है लेकिन यह बहुत कम होता है वैसे भी यह इलाज की स्थिति पर निर्भर करता है जो भी टॉपिकल क्रीम लगाई जाती है वह काफी हल्की होती है तथा यह सब skin को मुलायम बनाने के लिए होती है अतः इनका कोई side effect नहीं होता है

Psoriasis के इलाज के बाद किस बात का ध्यान रखना चाहिए

जब आप psoriasis का इलाज करवाते हैं तो इलाज के बाद भी इसके संपूर्ण लक्षण खत्म नहीं होते हैं कुछ लक्षण बचे होते हैं आपको अपनी skin पर हल्के moisturizer का use करना चाहिए तथा तेज धूप में आपको नहीं रहना चाहिए यह आपकी त्वचा के लिए हानिकारक हो सकता है डॉक्टर की सलाह से आप skin की देखभाल करें साबुन व पानी से नियमित साफ करें साबुन डॉक्टर की सलाह से ही यूज़ करें

यदि समय पर psoriasis का इलाज किया जाए तो इस skin disease को नियंत्रित किया जा सकता है लेकिन यदि आप ध्यान ना दें और देरी कर दें तो इस disease के बढ़ने की रफ्तार तेज हो जाती है तथा खुजली व दर्द बढ़ जाता है और जीवन की गुणवत्ता में कमी आती है

Psoriasis होने पर कौन से internal organs प्रभावित होते हैं

Psoriasis एक प्रतिरोधक प्रणाली में समस्या आने पर होने वाली बीमारी है जो skin की cells को अनियंत्रित रुप से 10 गुना ज्यादा बढा देती है इसका पूरे शरीर पर बहुत ही ज्यादा दुष्प्रभाव पड़ता है इससे बाहरी त्वचा तो प्रभावित होती ही है internal organs को भी प्रभावित करती है कुछ निम्न organs है जिनको यह प्रभावित करती है

  • जोड़ो और हड्डियों को यह disease सबसे ज्यादा प्रभावित करती है
  • दिल पर इसका बहुत ज्यादा प्रभाव पड़ता है
  • फेफड़ों पर भी psoriasis का प्रभाव पड़ता है
  • पाचन तंत्र तथा लीवर भी इस skin disease के होने के कारण प्रभावित होते हैं

अतः psoriasis होने पर प्रतिरोधक  प्रणाली में समस्या आने के कारण यह पूरे शरीर पर प्रतिकूल प्रभाव डालता है

Psoriasis होने पर क्या खाना चाहिए और क्या नहीं खाना चाहिए

आपको इस skin disease के होने पर ऐसा खाना खाना चाहिए जो आप की प्रतिरोधक प्रणाली को बढ़ाने का काम करें क्योंकि इस disease में प्रतिरोधक प्रणाली सक्रिय तथा निष्क्रिय हो जाती है

Antioxidant के स्रोतों को शामिल करें

विटामिन सी, विटामिन ई, सेलेनियम यह psoriasis को रोकने का काम करते हैं आप इनको खा सकते हैं जैसे नट्स ,ड्राई फ्रूट्स ,ताजे फल, बीज जैसे खरबूजे के बीज, तरबूज के बीज, सूरजमुखी के बीज आदि

विटामिन डी को शामिल करें

मछली, डेयरी उत्पाद ,मशरूम या कुछ समय सूरज की रोशनी में बैठे जो सुबह के समय की होती है यह सब विटामिन के अच्छे स्रोत हैं

Gluten के सेवन से बचें

जिस व्यक्ति को psoriasis है उसको gluten के सेवन से बचना चाहिए क्योंकि gluten की वजह से psoriasis ज्यादा होता है

वसायुक्त खाना नहीं खाना चाहिए

जिसके psoriasis की प्रॉब्लम है उनको वसायुक्त खाना भी नहीं खाना चाहिए क्योंकि इसकी वजह से भी psoriasis ज्यादा होता है

मछली का सेवन जरूर करें

मछली में ओमेगा 3 फैटी एसिड होता है जोकि inflammatory reaction की रोकथाम में सहायक होता है इसलिए इसका सेवन करना psoriasis के मरीजों के लिए अच्छा होता है

नियमित व्यायाम करें

Psoriasis के मरीजों को रोजाना व्यायाम करना चाहिए इससे रक्त परिसंचरण तंत्र में सुधार होता है जिससे प्रतिरक्षा प्रणाली समुचित कार्य करना शुरू कर देती है अतः नियमित तौर पर एक्सरसाइज करें

कुछ ऐसी चीजें हैं जिनको बिल्कुल भी ना खाएं

वसायुक्त खाना, चीनी ,लाल मास, जंक फूड ,प्रोसेस फूड ,डेयरी उत्पाद ,ग्लूटेन युक्त आहार, हाई कार्बस डाइट नहीं लेनी चाहिए

Psoriasis ध्यान नहीं देने पर ज्यादा बढ़ सकता है इसलिए इसके रोकथाम के लिए आवश्यक कदम जरूर उठाने चाहिए इसके लिए humidifier का उपयोग करें moisturizer का उपयोग करें ठंडे व शुष्क मौसम से बचें तो आप इसको नियंत्रित कर लेंगे

घरेलू उपचार

आयुर्वेद में psoriasis को ठीक करने के लिए अनेकों घरेलू है जड़ी बूटियों से संबंधित इलाज है

पत्ता गोभी से psoriasis का इलाज

पत्ता गोभी को बारीक पीसकर पेस्ट बना लें तथा इस पेस्ट को कटोरे में रखें और कटोरे को गर्म पानी से भरे कटोरे में तेरा दें कुछ समय बाद जब पेस्ट गुनगुना हो जाए तो उसे निकाले और जहां पर psoriasis हो रखा है वहां पर इस पेस्ट को लगाएं और कपड़े से इसे दबाएं

करेले का जूस व नींबू

एक चम्मच नीबू तथा करेले का बाहरी छिलका ले करेले के बाहरी छिलके को बिल्कुल पीस लें और इसमें एक चम्मच नींबू मिलाएं और इसे खाली पेट 6 महीने इसका सेवन करें

बेकिंग सोडा व एक कटोरा पानी

पानी का एक कटोरा ले उसमें दो चम्मच बेकिंग सोडा डालें फिर तोलिए को डुबोकर इस पानी से निचोड़ लें और इसे psoriasis वाली जगह पर लगाएं

गाजर चुकंदर वह आधा गिलास पानी

आधा चुकंदर ले तथा आधा गाजर इन दोनों को आधा गिलास पानी डालकर पीस लें और इस जूस को दिन में एक बार जरूर लें 

5 टिप्स जो psoriasis के मरीजों के लिए हैं

  • 10 दिन तक संपूर्ण फलाहार करें
  • खाने में olive oil का ही इस्तेमाल करें
  • रोजाना गाजर चुकंदर का जूस पिए तथा करेले का जूस पिये
  • विटामिन ई युक्त भोजन करें
  • ड्राई फ्रूट्स,  फलों का सेवन रोजाना करें

Disclaimer :-

इस Website पर दी गई जानकारी केवल सामान्य ज्ञान के उद्देश्यों के लिए है और यह पेशेवर चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार का विकल्प नहीं है। चिकित्सीय स्थिति के संबंध में आपके किसी भी प्रश्न के लिए हमेशा किसी योग्य स्वास्थ्य प्रदाता की सलाह लें। इस Website पर आपने जो कुछ पढ़ा है, उसके कारण पेशेवर चिकित्सा सलाह की अवहेलना न करें या इसे प्राप्त करने में देरी न करें। इस Website पर निहित जानकारी “जैसा है” आधार पर प्रदान की जाती है

Click Here to Read More…

Q.1 psoriasis क्यों होता है

Psoriasis प्रतिरोधक प्रणाली में समस्या उत्पन्न होने की वजह से होता है जिसमें स्कीन की सेल्स 10 गुना तेजी से बनने लगती हैं और एक पपड़ी का रूप लेती चली जाती हैं

Q.2 psoriasis का इलाज संभव है

Psoriasis प्रतिरोधक प्रणाली की समस्या की बीमारी है इसलिए इसका अभी तक कोई भी इलाज मालूम नहीं पड़ा है इस बीमारी को सिर्फ नियंत्रित किया जा सकता है अभी तक ऐसा कोई इलाज नहीं ज्ञात हुआ है जो इस डिजीज को हमेशा के लिए खत्म कर सकें यह skin disease आजीवन रह सकती है बस इसको आगे बढ़ने से रोका जा सकता है या कम किया जा सकता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *