8 फैक्ट बताते हैं कि पानी से स्वस्थ कैसे रहे

Benefits of water on human body

पानी का शरीर पर प्रभाव 

पानी एक ऐसा चमत्कारी तत्व है जिसने अपने आसपास की जानकारी को संग्रहित कर रखा है

पानी में खुद का दिमाग है वह खुद की बुद्धि भी है यह किसी भी इंसानी भाषा को समझने की क्षमता रखता है इसमें इंसानी दिमाग में चल रहे विचारों का ज्ञान है

नकारात्मक व सकारात्मक विचारों का ज्ञान व भावो को पहचानने की क्षमता है पानी के इस चमत्कारी प्रभाव को जानने के बाद कोई भी हैरान हो सकता है

72 परसेंट शरीर आपका पानी से बना है इसलिए पानी आपके शरीर व दिमाग को सबसे ज्यादा प्रभावित करता है आपको शायद पता ना हो कि पानी से हमारे शरीर को सही किया जा सकता है पानी से वजन कम होता है तथा पानी त्वचा को जमा बना रखता है

पानी में बहुत ताकत है पानी को घूंट घूंट करके पीने से फॉर एसिड के स्तर को बेअसर कर देता है जिससे क्षारीय लार को पेट तक पहुंचने में मदद मिलती है

1. पानी पर विज्ञान के प्रयोग

विज्ञान ने कई प्रयोग किए पानी पर और उसको जानना चाहा लेकिन वह बहुत कम ही जान पाए पानी के रहस्य को आधुनिक तकनीकी से वैज्ञानिकों ने कई प्रयोग किए और वह जान पाए की  पानी की अपनी बुद्धि होती है यह थोड़ा सा अजीब जरूर है लेकिन वैज्ञानिकों ने यह साबित कर दिया है

पानी के प्रयोग आप अपने आप पर करके खुद को चमत्कारिक तरीके से बदल सकते हैं वैज्ञानिक प्रयोगों में साबित हो चुका है कि पानी में इंसानी सेल्स जैसे सेल्स होते हैं खुद का सेल्यूलर स्ट्रक्चर होता है और इस स्ट्रक्चर में मॉलिक्यूल खास तरह से ग्रुप में होते हैं प्रत्येक ग्रुप में एक क्लस्टर होता है और प्रत्येक क्लस्टर में एक मेमोरी सेल होती है

और एक मेमोरी सेल में 440000 इंफॉर्मेशन पैनल्स होते हैं जिससे हर साल आसपास के वातावरण से इंटरेक्ट करने में सक्षम होती है

जिससे पानी हजारों लाखों सालों तक इन इंफॉर्मेशन को स्टोर रखने की क्षमता रखता है आज पानी को लिक्विड कंप्यूटर भी कहा जा सकता है

2. पानी के द्वारा अपने आपको ऊर्जावान कैसे बनाएं

इतने सारे प्रयोगों के बाद यह तो साबित हो गया कि पानी में बहुत ताकत है जो हमारे जीवन को बदल सकती है आज आपका स्पर्श, आपकी प्रार्थना, आपके शब्द यहां तक कि आपके विचारों मात्र से भी पानी के स्ट्रक्चर में बदलाव आ जाता है और यह बदलाव आपके जीवन को भी बदल सकने की ताकत रखता है

बहुत जरूरी है कि पानी को बहुत ध्यान से किया जाए पानी को शुद्ध पिए वे सावधानी के साथ भी हैं क्योंकि आपका शरीर 72 पर्सेंट पानी से बना है और पानी में जबरदस्त याददाश्त है

यदि पानी को कुछ कहा जाए तो वह उसको याद रहेगा पानी अनकहे शब्दों को याद रखता है जब पानी हमारे घर तक पहुंचता है तो वह 50 मोड़ो से होता हुआ गुजरता है जिससे वह 60 परसेंट जहरीला हो जाता है अतः पानी को तुरंत नल से नहीं पीना चाहिए इसको कुछ समय के लिए एक पात्र में रख लें जिससे कुछ समय बाद पानी पहले जैसा हो जाएगा क्योंकि यह जहर रासायनिक नहीं होता है यह आणविक स्तर पर होता है अणुओ के बदलाव की वजह से होता है

पानी को कुछ समय रखकर व प्रार्थना करके पीना चाहिए जिससे वह ऊर्जावान हो जाए अतः पानी के अंदर अच्छे विचारों को डाला जाए अच्छे भावों को डाला जाए जिससे वह अत्यधिक ऊर्जावान हो जाए और जब हम उसे पिए तो वह हमारे शरीर में जाकर हमें ऊर्जा दे

3. पानी पीने का सही तरीका

पानी शरीर की ऊर्जा व्यय को उत्तेजित करता है जिससे वजन घटाने में मदद मिलती है आप अपने बढ़ते हुए वजन को पानी से रोक सकते हैं आप जब भी पानी पिए तो पानी को सामने रखकर या हाथों में उस पात्र को लेकर जिसमें पानी है आप प्रार्थना करें अपने वजन को कम करने की इच्छा करें तथा इसके बाद आप पानी को बैठकर घूट घूट करके पिए पानी दिन में कम से कम 8 गिलास जरूर पीने चाहिए और जितनी बार भी पानी पिए इस प्रक्रिया को दोहराते हुए पिये

कि हमारे शरीर में एक चमत्कारी बदलाव होगा जिसे हम आसानी से महसूस करेंगे इस तरह पानी घूंट घूंट करके पीने से पानी में हमारे मुंह की लार उसमें मिलेगी और वह हमारे वजन को कम करने में हमारी सहायता करेगी अतः वजन को नियंत्रण में लाने के लिए यह बहुत उपयोगी साबित होता है

हमें हमेशा खाने के 1 घंटे पहले वह खाने के 1 घंटे बाद पानी पीना चाहिए जिससे हमारे शरीर की कैलोरी कम होने में हमारी मदद होती है और भोजन भी अच्छे से पचता है

4. पानी पीने से शरीर स्वस्थ

सुबह उठने के साथ ही पानी पीना चाहिए क्योंकि बासी मुंह हमारी लार में एंटीमाइक्रोबियल्स गुण और हेल्दी बैक्टीरिया होते हैं जो नुकसानदायक माइक्रोब्स को नष्ट करते हैं इससे किडनी स्वस्थ रहती है और उसकी कार्य क्षमता बढ़ती है

समय-समय पर पानी पीने से हमारा शरीर स्वस्थ रहता है वह एक ऊर्जा बनी रहती है जितने भी टॉक्सिन हमारे शरीर में मौजूद होते हैं वह सारे के सारे पेशाब के जरिए हमारे शरीर से बाहर हो जाते हैं जिससे हमारा शरीर बीमार कम होता है व स्वस्थ व ऊर्जावान बना रहता है

अतः प्रत्येक दिन 8 गिलास पानी तो पिया ही जाना चाहिए साथ प्रार्थना करके वह अपने भावों और विचारों को पानी में डालकर पीने से वह और अधिक ऊर्जावान हो जाता है और हम जैसा चाहे वैसा शरीर की संरचना बना सकते हैं पानी का टेंपरेचर शरीर के टेंपरेचर के अनुसार रहे इसलिए घुट घुट करके पानी पीना चाहिए

खड़े होकर पानी नहीं पीना चाहिए क्योंकि खड़े होकर पानी पीने से घुटनों में दर्द होने की समस्या हो सकती है तथा शरीर के अन्य अंगों को नुकसान पहुंच सकता है जैसे लिवर किडनी आदि

पानी शरीर को डिटॉक्स करने में मदद करता है हमारे शरीर का अधिकतम हिस्सा पानी का बना होता है अतः हमें इसका विशेष ध्यान रखना चाहिए

5. पानी से कैलोरी बर्न होती है

मोटापे से अधिकतर लोग परेशान होते रहते हैं वे लोग वजन को कम करने के लिए क्या कुछ नहीं करते लेकिन वजन कम नहीं होता है लेकिन पानी पीकर भी आप बदन को कम कर सकते हैं यह बहुत हैरान कर देने वाली बात है लेकिन सच में ऐसा होता है

6_7 किलोमीटर चलकर आप जो कैलोरी बर्न करते हैं वह कैलोरी आप पानी पीकर भी बर्न कर सकते हैं क्योंकि पानी पीते रहने से आप खाना कब खाते हैं जिससे आप ज्यादा खा नहीं पाएंगे और वजन घटाने में मदद मिलेगी

पानी में खुद में कोई कैलोरी नहीं होती है यह आपके शरीर को एक्टिव रखता है और विषाक्त पदार्थों को शरीर से बाहर निकालता है जिससे फैट बर्न होता है सुबह खाली पेट पानी पीने की आदत होनी चाहिए इसको उषा पान कहा जाता है

6.गर्म पानी पीना चाहिए

सुबह उठते ही जब आप पानी पीते हैं तो यह ध्यान रखना चाहिए कि वह पानी आप गर्म करके ही पिए क्योंकि गर्म पानी बहुत जल्दी आपके शरीर की चर्बी को ब्रेकडाउन करता है और वजन आसानी से कम होता है जब आप रात को सोने जाते हैं तो भी आप पानी को गर्म करके पिए रात को गर्म पानी पीना आपके ह्रदय के लिए भी अच्छा होता है जिससे ह्रदय घाट की आशंका कम हो जाती है

7.पानी का त्वचा पर असर

हम रोजाना सही मात्रा में पानी पीते हैं तो हमारे शरीर से विषाक्त तत्व बाहर आते हैं जिसका असर हमारी त्वचा पर भी पड़ता है हमारी त्वचा से दाग-धब्बे धीरे-धीरे दूर होने लगते हैं जब आप लगातार सही तरीके से पानी पीते हैं तो आपकी त्वचा चमकने लगती है और आपकी त्वचा पर ही रहने लगती है जिससे त्वचा पर कोमलता का एहसास होता है

पानी पीने से त्वचा में झुर्रियां तरारे नहीं आती है और त्वचा खिंचाव में रहती है जब व्यायाम करते हैं और वजन घटता है तो त्वचा दिल्ली होकर लटकने लगती है लेकिन पानी पीने से उसने खिंचाव आता है पानी पीने से टॉक्सिंस बाहर निकल जाते हैं जिससे मुहासे एलर्जी ऑयली स्किन से छुटकारा मिलता है

8. ठंडा पानी पीने की गलती कभी ना करें

Benefits of water on human body

आपको कभी भी ठंडा पानी नहीं पीना चाहिए क्योंकि ठंडा पानी पीने से मोटापा बढ़ता है गर्मियों में भी ठंडा पानी नहीं पीना चाहिए एक बहुत ही मानी हुई किताब ‘द कंपलीट बुक ऑफ़ आयुर्वैदिक होम रेमेडीज’ उस बुक में लिखा हुआ है कि भोजन के दौरान या किसी समय ठंडा पानी नहीं पीना चाहिए यह हमारे स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है

इससे आपका वजन बढ़ता है और साथ ही कई समस्याएं आपके शरीर में आ जाती हैं हमारे शरीर का तापमान 37 डिग्री सेल्सियस होता है और जब हम ठंडा पानी पीते हैं तो वह हमारे शरीर के तापमान को कम कर देता है तो उसका नतीजा यह होता है कि हमारा शरीर खाने को पचाने की जगह अपनी एनर्जी का इस्तेमाल शरीर को वापस सामान्य तापमान पर लाने के लिए करता है जिससे वह भोजन शरीर में फैट के रूप में संग्रहीत होने लगता है और आपका वजन बढ़ने लगता है

इसलिए ठंडा पानी कभी भी नहीं पीना चाहिए आप सादा पानी पिए या गुनगुना पानी पीये 

ठंडा पानी मेटाबॉलिज्म को धीमा करता है जिससे शरीर में असंतुलन पैदा हो जाता है ठंडा पानी पीने से सर्दी जुकाम की समस्या बढ़ जाती है बलगम गाढ़ा हो सकता है साइनस की समस्या हो सकती है अतः हमेशा गर्म पानी का इस्तेमाल ही करना चाहिए

अतः आप जान ही गए होंगे कि पानी कितना चमत्कारी है  पानी हमेशा शुद्ध तथा प्रार्थना करके ही पीना चाहिए तथा यह गुनगुना पीना चाहिए जिससे हम हमेशा स्वस्थ रहेंगे और हमेशा सही मात्रा में रोजाना पानी का इस्तेमाल किया जाना चाहिए

Click Here to Read More…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *