Seasonal Affective Disorder

Seasonal Affective Disorder (SAD) एक प्रकार का Depression है जो हर साल एक ही समय पर होता है, आमतौर पर पतझड़ और सर्दियों के महीनों में। SAD के लक्षणों में कम मूड, गतिविधियों में रुचि की कमी, सोने में कठिनाई, भूख और वजन में बदलाव और निराशा या बेकार की भावना शामिल हैं। SAD का सटीक कारण ज्ञात नहीं है, लेकिन ऐसा माना जाता है कि यह दिन के उजाले की मात्रा में परिवर्तन और शरीर के circadian rhythms के विघटन से संबंधित है।

Seasonal Affective Disorder का Symptoms, Diagnosis And Treatment

SAD का निदान आमतौर पर एक mental health professional द्वारा किया जाता है, जो लक्षणों का विस्तृत इतिहास लेगा और लक्षणों के अन्य संभावित कारणों का पता लगाएगा।

Seasonal Affective Disorder (SAD) के उपचार में आमतौर पर light therapy, medication, and psychotherapy.का संयोजन शामिल होता है।  light therapy,, जिसमें प्रत्येक दिन एक निश्चित समय के लिए एक विशेष Light Box के सामने बैठना शामिल है, माना जाता है कि यह शरीर की circadian rhythms को विनियमित करने और मूड में सुधार करने में मदद करता है। SAD के इलाज के लिए एंटीडिप्रेसेंट दवा भी मददगार हो सकती है, जैसे कि संज्ञानात्मक-व्यवहार थेरेपी या Talk therapy। कुछ लोगों को विटामिन डी की खुराक से भी फायदा हो सकता है, क्योंकि विटामिन डी के निम्न स्तर को SAD से जोड़ा गया है।

यह भी ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि Seasonal Affective Disorder (SAD)लोगों को अलग तरह से प्रभावित करता है, इसलिए व्यक्तिगत उपचार योजना के लिए मानसिक स्वास्थ्य पेशेवर से परामर्श करना महत्वपूर्ण है।

SAD के बारे में विचार करने के लिए यहां कुछ अतिरिक्त बिंदु हैं [here are some additional points to consider about SAD:]

Seasonal Affective Disorder (SAD) पुरुषों की तुलना में महिलाओं में अधिक आम है, और उन लोगों में होने की अधिक संभावना है जो लंबे, गहरे सर्दियों वाले क्षेत्रों में रहते हैं।

SAD प्रमुख Depression ग्रस्तता विकार (MDD) का एक उपप्रकार है, और लक्षण MDD के समान होते हैं। मुख्य अंतर यह है कि SAD के लक्षण हर साल एक ही समय पर होते हैं, आमतौर पर गिरावट और सर्दियों में।

कुछ लोग SAD के विपरीत रूप का भी अनुभव कर सकते हैं, जिसे summer-onset SAD or “reverse SAD,” के रूप में जाना जाता है, जिसमें लक्षण वसंत और गर्मियों के महीनों में होते हैं।

लाइट थेरेपी Seasonal Affective Disorder (SAD) के लिए सबसे प्रभावी उपचारों में से एक है, और ऐसा माना जाता है कि यह शरीर के circadian rhythms को रीसेट करके काम करता है। लाइट थेरेपी बॉक्स खरीद के लिए उपलब्ध हैं, और उन्हें रोजाना 30-60 मिनट के लिए इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है।

एंटीडिप्रेसेंट दवाएं, जैसे कि चयनात्मक सेरोटोनिन रीपटेक इनहिबिटर (एसएसआरआई) भी आमतौर पर SAD के लिए निर्धारित की जाती हैं। वे मस्तिष्क में कुछ रसायनों के स्तर को संतुलित करने में मदद करते हैं जो मूड को प्रभावित करते हैं।

Psychotherapy, such as cognitive-behavioral therapy (CBT) या Talk therapy, SAD के लिए सहायक भी हो सकती है। सीबीटी लोगों को सोच और व्यवहार के नकारात्मक पैटर्न को पहचानने और बदलने में मदद कर सकता है जो SAD के लक्षणों में योगदान करते हैं।

जीवनशैली में बदलाव जैसे नियमित व्यायाम, स्वस्थ भोजन और नींद की स्वच्छता भी Seasonal Affective Disorder (SAD) के लक्षणों को कम करने में मदद कर सकती है।

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि यदि इलाज नहीं किया जाता है, तो Seasonal Affective Disorder (SAD)अधिक गंभीर समस्याएं पैदा कर सकता है जैसे काम या स्कूल में काम करने में कठिनाई, रिश्ते की समस्याएं और यहां तक ​​कि आत्महत्या के विचार भी।

जैसा कि किसी भी मानसिक स्वास्थ्य विकार के साथ होता है, अगर आपको संदेह है कि आपको SAD है, या यदि आपके लक्षण आपके दैनिक जीवन में हस्तक्षेप कर रहे हैं, तो पेशेवर मदद लेना महत्वपूर्ण है। एक मानसिक स्वास्थ्य पेशेवर एक व्यक्तिगत उपचार योजना विकसित करने के लिए आपके साथ काम कर सकता है जो आपके लक्षणों को प्रबंधित करने और आपके जीवन की समग्र गुणवत्ता में सुधार करने में मदद करेगा।

Disclaimer :-

इस Website पर दी गई जानकारी केवल सामान्य ज्ञान के उद्देश्यों के लिए है और यह पेशेवर चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार का विकल्प नहीं है। चिकित्सीय स्थिति के संबंध में आपके किसी भी प्रश्न के लिए हमेशा किसी योग्य स्वास्थ्य प्रदाता की सलाह लें। इस Website पर आपने जो कुछ पढ़ा है, उसके कारण पेशेवर चिकित्सा सलाह की अवहेलना न करें या इसे प्राप्त करने में देरी न करें। इस Website पर निहित जानकारी “जैसा है” आधार पर प्रदान की जाती है

Click Here to Read More…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *